What Is Ransomware? Best Details रैंसमवेयर का परिचय

Share This Click On Below

What Is Ransomware

रैंसमवेयर एक प्रकार का मैलवेयर है जो एक व्यक्ति या संगठन के कंप्यूटर सिस्टम को संक्रमित करता है, डेटा को एन्क्रिप्ट कर देता है या सिस्टम को लॉक कर देता है, और फिर डेटा या सिस्टम तक पहुंच प्रदान करने के लिए फिरौती की मांग करता है। यह व्यक्तिगत उपयोगकर्ताओं से लेकर बड़े संगठनों तक, किसी को भी लक्षित कर सकता है।.

सरकारी नौकरियों की जानकारी पाने के लिए हमारे whatsapp ग्रुप से जुड़ेClick Here

Ransomware कैसे काम करता है?

What Is Ransomware
What Is Ransomware

आमतौर पर, रैंसमवेयर हमलावर फ़िशिंग ईमेल्स, संदिग्ध वेबसाइटों, या असुरक्षित नेटवर्क सेवाओं के माध्यम से सिस्टम में प्रवेश करते हैं। एक बार सिस्टम संक्रमित हो जाने पर, यह महत्वपूर्ण फाइलों को एन्क्रिप्ट कर देता है और उपयोगकर्ता से फिरौती की मांग करता है, अक्सर बिटकॉइन जैसी क्रिप्टोकरेंसी में।

What Is Ransomware- रैंसमवेयर के प्रकार

Locker Ransomware

यह सिस्टम तक पूरी तरह से पहुंच को अवरुद्ध कर देता है, जिससे उपयोगकर्ता को अपने डिवाइस का उपयोग करने से रोकता है।

Crypto Ransomware

यह विशेष रूप से फाइलों को एन्क्रिप्ट करता है, जिससे उपयोगकर्ता को उनकी अपनी फाइलों तक पहुँचने से रोकता है।

यह भी पढ़े ” StopCrypt Ransomware: एक नए और खतरनाक रूप में हमला Best Details

What Is Ransomware- रैंसमवेयर का इतिहास और विकास

प्रारंभिक दिन

रैंसमवेयर का पहला ज्ञात हमला 1989 में हुआ था, जिसे AIDS ट्रोजन के नाम से जाना जाता है। तब से, रैंसमवेयर ने विभिन्न रूपों में विकसित होकर अधिक सोफिस्टिकेटेड और खतरनाक बन गया है।

हालिया घटनाएं

हाल के वर्षों में, वानाक्राई और पेट्या जैसे हमलों ने दुनिया भर में हजारों संगठनों को प्रभावित किया है, जिससे रैंसमवेयर के खतरे को और अधिक स्पष्ट किया गया है।

रैंसमवेयर हमलों के प्रमुख उदाहरण

वानाक्राई

2017 में, वानाक्राई ने दुनिया भर में 150 से अधिक देशों में संगठनों को प्रभावित किया, जिसमें अस्पताल, बैंक और टेलीकॉम कंपनियां शामिल थीं।

पेट्या

2017 में ही, पेट्या रैंसमवेयर ने वैश्विक पैमाने पर कई संगठनों को लक्षित किया, विशेष रूप से यूक्रेन में, जिससे उनके ऑपरेशनल कार्यों में बड़े पैमाने पर व्यवधान पैदा हुआ।

What Is Ransomware – रैंसमवेयर से बचाव के तरीके

सुरक्षा सॉफ्टवेयर का उपयोग

एंटीवायरस और एंटी-रैंसमवेयर सॉफ्टवेयर उपयोग करना, जो रैंसमवेयर हमलों को पहचानने और रोकने में मदद कर सकते हैं।

बैकअप और डिजास्टर रिकवरी

नियमित रूप से डेटा का बैकअप लेना और डिजास्टर रिकवरी योजना बनाना रैंसमवेयर हमले के प्रभाव को कम करने के लिए महत्वपूर्ण है।

शिक्षा और जागरूकता

उपयोगकर्ताओं को साइबर सुरक्षा के बारे में शिक्षित करना और उन्हें संदिग्ध लिंक या अटैचमेंट के प्रति सावधान रहने के लिए प्रोत्साहित करना।

यह भी [पढ़े : “Google Doodle Celebrates Flat White Coffee”

रैंसमवेयर का भविष्य

तकनीकी प्रगति

जैसे-जैसे तकनीकी प्रगति होती है, हमलावर अधिक सोफिस्टिकेटेड रैंसमवेयर विकसित करेंगे, जिससे डिफेंस मेकेनिज़्म को भी अपग्रेड करने की आवश्यकता होगी।

साइबर सुरक्षा रणनीतियों में बदलाव

संगठनों को अपनी साइबर सुरक्षा रणनीतियों को लगातार अपडेट करने और नए खतरों के अनुरूप ढालने की आवश्यकता होगी।

निष्कर्ष

रैंसमवेयर एक बढ़ता हुआ साइबर खतरा है जिसका सामना करने के लिए सतर्कता, तैयारी और प्रतिरोध की आवश्यकता होती है। सुरक्षित प्रथाओं को अपनाने, शिक्षा और जागरूकता बढ़ाने, और लगातार सुरक्षा उपायों को अपडेट करने से हम इस खतरे का मुकाबला कर सकते हैं।

सरकारी नौकरियों की जानकारी पाने के लिए हमारे whatsapp ग्रुप से जुड़ेClick Here

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQs) What Is Ransomware

  1. रैंसमवेयर से बचने के लिए मैं क्या कर सकता हूँ?

Ans- रैंसमवेयर से बचने के लिए, आप कई उपाय कर सकते हैं जो आपको इस प्रकार के मैलवेयर से सुरक्षित रखने में मदद करेंगे। यहाँ कुछ महत्वपूर्ण उपाय दिए गए हैं:

  1. एंटीवायरस सॉफ्टवेयर का उपयोग: एक विश्वसनीय एंटीवायरस सॉफ्टवेयर स्थापित करें और इसे नियमित रूप से अपडेट रखें। यह आपके कंप्यूटर को विभिन्न प्रकार के मैलवेयर से सुरक्षित रखने में मदद करता है, जिसमें रैंसमवेयर भी शामिल है।
  2. बैकअप बनाए रखें: अपने महत्वपूर्ण डेटा का नियमित रूप से बैकअप बनाएं। इससे, अगर आपका सिस्टम रैंसमवेयर से संक्रमित हो जाता है, तो आपके पास अपने डेटा की एक प्रति होगी जिसे आप पुनः प्राप्त कर सकते हैं।
  3. सॉफ्टवेयर अपडेट: अपने ऑपरेटिंग सिस्टम और सभी अनुप्रयोगों को नवीनतम संस्करण में अपडेट रखें। सॉफ्टवेयर डेवलपर्स अक्सर सुरक्षा पैच जारी करते हैं जो संभावित सुरक्षा खामियों को ठीक करते हैं।
  4. संदिग्ध लिंक और ईमेल से सावधान रहें: फ़िशिंग ईमेल्स और संदिग्ध लिंक रैंसमवेयर संक्रमण के सामान्य स्रोत हैं। अज्ञात स्रोतों से प्राप्त होने वाले ईमेल्स और लिंक्स पर क्लिक न करें।
  5. स्ट्रॉंग पासवर्ड्स का उपयोग: मजबूत और अद्वितीय पासवर्ड्स का उपयोग करें, और विभिन्न ऑनलाइन खातों के लिए अलग-अलग पासवर्ड्स उपयोग करें।
  6. फायरवॉल का उपयोग: एक विश्वसनीय फायरवॉल का उपयोग करें जो अनधिकृत पहुँच से आपके नेटवर्क की सुरक्षा कर सके।
  7. जागरूकता और शिक्षा: अपने आप को और अपने सहकर्मियों या परिवार के सदस्यों को रैंसमवेयर और अन्य साइबर खतरों के बारे में जागरूक और शिक्षित करें।
  8. वीपीएन का उपयोग: सार्वजनिक वाई-फाई नेटवर्क पर काम करते समय वीपीएन (वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क) का उपयोग करें। यह आपके डेटा को एन्क्रिप्ट करता है और अनधिकृत पहुँच से बचाता है।
  1. रैंसमवेयर हमले का पता लगाने के बाद मुझे क्या करना चाहिए?

Ans- रैंसमवेयर हमले का पता लगाने के बाद, स्थिति को संभालने के लिए तत्परता और सोच-समझकर कदम उठाना महत्वपूर्ण है। यहाँ कुछ महत्वपूर्ण कदम दिए गए हैं जो आपको उठाने चाहिए:

  1. इंटरनेट कनेक्शन डिस्कनेक्ट करें: अपने संक्रमित डिवाइस को इंटरनेट से तुरंत डिस्कनेक्ट कर दें। इससे रैंसमवेयर के फैलने की संभावना कम हो जाएगी और अतिरिक्त डेटा चोरी होने से भी रोकथाम होगी।
  2. अन्य डिवाइसों को भी अलग करें: यदि आपका नेटवर्क संक्रमित हो गया है, तो अन्य सभी डिवाइसों को भी नेटवर्क से अलग कर दें ताकि इन्फेक्शन का प्रसार न हो सके।
  3. संक्रमण का विश्लेषण करें: समझने की कोशिश करें कि कौन सा रैंसमवेयर वेरिएंट आपके सिस्टम को संक्रमित कर चुका है। यह जानकारी आपको उपयुक्त समाधान खोजने में मदद कर सकती है।
  4. बैकअप की जांच करें: यदि आपके पास बैकअप है, तो सुनिश्चित करें कि वह सुरक्षित और अछूता है। अपने डेटा को रिस्टोर करने से पहले, संक्रमण को पूरी तरह से हटाने की प्रक्रिया सुनिश्चित करें।
  5. मालवेयर हटाने के उपकरण का उपयोग करें: एक विश्वसनीय एंटी-मालवेयर टूल का उपयोग करके रैंसमवेयर को हटाने की कोशिश करें। कई सुरक्षा फर्म्स विशेष टूल्स प्रदान करती हैं जो विशेष रैंसमवेयर वेरिएंट्स को हटा सकते हैं।
  6. सुरक्षा विशेषज्ञों से सलाह लें: यदि आप स्वयं संक्रमण को हटाने में असमर्थ हैं, तो सुरक्षा विशेषज्ञों या एक पेशेवर साइबर सुरक्षा कंपनी से संपर्क करें।
  7. फिरौती का भुगतान न करें: भले ही यह आकर्षक लगे, फिरौती का भुगतान करने से बचें। इससे आपको आपके डेटा की वापसी की गारंटी नहीं मिलती और यह हमलावरों को प्रोत्साहित करता है।
  8. साइबर सुरक्षा उपायों को मजबूत करें: इस घटना से सीखें और भविष्य में इसी प्रकार के हमलों से बचने के लिए अपने साइबर सुरक्षा उपायों को मजबूत करें।
  1. रैंसमवेयर हमलावरों को फिरौती का भुगतान करना चाहिए?
  2. मेरा डेटा रैंसमवेयर हमले में एन्क्रिप्ट हो गया है, क्या मैं इसे वापस पा सकता हूँ?
  3. रैंसमवेयर से बचाव के लिए सर्वश्रेष्ठ प्रथाएं क्या हैं?
Share This Click On Below

Discover more from naukarijobnj.com

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading

Paris 2024 Olympics: Get Ready for Fun and Sports New iOS Features for iPhones: Everything You Need to Know Massive Discounts on Apple iPads: How to Get the Best Deal!” “DRDO Recruitment 2024: 127 Vacancies for ITI Apprentices